राष्ट्रपति द्वारा संस्कृत, फारसी, अरबी, पाली तथा प्राकृत भाषाओं के विद्वानों को सम्मान-प्रमाणपत्र एवं युवा विद्वानों को महर्षि बादरायन व्यास सम्मान

  • 0

राष्ट्रपति द्वारा संस्कृत, फारसी, अरबी, पाली तथा प्राकृत भाषाओं के विद्वानों को सम्मान-प्रमाणपत्र एवं युवा विद्वानों को महर्षि बादरायन व्यास सम्मान

Category : Uncategorized

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने 15 अगस्त 2016 को राष्ट्रपति भवन में आयोजित एक समारोह मैं
युवा विद्वान डॉ. मो. कुतुबुद्दीन(लिलपुर गांव के निवासी) को अरबी और सूंदर नारायण झा(शिवोत्तर टोला) को संस्कृत के क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान हेतु महर्षि बादरायन व्यास सम्मान प्रदान किया!
यह दोनों विद्वान का घर एक ही पंचायत हनुमाननगर मे है इलाका मैं ख़ुशी का माहौल है लोग बहुत खुश है
यह सम्मान प्रत्येक वर्ष संस्कृत, फारसी, अरबी, पाली तथा प्राकृत के क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान हेतु स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर दिया जाता है.

 

राष्ट्रपति द्वारा संस्कृत, फारसी, अरबी, पाली तथा प्राकृत भाषाओं के विद्वानों को सम्मान-प्रमाणपत्र एवं युवा विद्वानों को महर्षि बादरायन व्यास सम्मान
महामहिम राष्ट्रपति संस्कृत, फारसी, अरबी, पाली तथा प्राकृत भाषाओं के निम्नलिखित विद्वानों को सहर्ष सम्मान-प्रमाणपत्र प्रदान करते हैं-

संस्कृत

1.            श्री आर. वेंकटरमन

2.            श्री विष्वनाथ गोपालकृष्ण

3.            श्री जियालाल कम्बोज

5.            डॉ. भवेन्द्र झा

6.            प्रो. प्रियतमचन्द्र शास्त्री

7.            प्रो. गुरूपाद के हेगडे

8.            प्रो. एस.टी नगराज

9.            श्री सनातन मिश्र

10.          श्री एस.एल.पि.आज्जनेयषर्मा

11.          प्रो. (श्रीमती) लक्ष्मी शर्मा

12.          प्रो. विष्वनाथ भट्टाचार्य

13.          प्रो. रामानारायण दास

14.          डॉ. रामशङ्कर अवस्थी

15.          श्री हृदय रंजन शर्मा

16.          प्रो. (डॅा.) जानकी प्रसाद द्विवेदी

 

 

संस्कृत (अंतर्राष्ट्रीय)

1.            श्री फरनांडो तोला

 

अरबी

1.            श्री अबदुल मुसाब्बीर भुइया

2.            श्री सय्यद असद रज़ा हुसैनी

3.            श्री बदर-ए-जमाल इस्लाही

 

फारसी

1.            हकीम सय्यद गुलाम मेहदी राज़

2.            चौधरी वहहाज अहमद अषरफ

3.            मौलवी एच. रहमान काबली

पाली

1.            डॅा. बेला भट्टाचार्य

 

प्राकृत

1.            डॅा. दमोदर शास्त्री

 

इसके अतिरिक्त महामहिम राष्ट्रपति संस्कृत, फारसी, अरबी, पाली तथा प्राकृत भाषाओं के निम्नलिखित युवा विद्वानों को महर्षि बादरायन व्यास सम्मान भी प्रदान करती हैः-

 

संस्कृत

1.            डॉ. महानन्द झा

2.            डॉ. सुन्दर नारायण झा

3.            डॉ. जि.एस.वि. दत्तात्रेयमूर्ति

4.            डॉ. विष्वनाथ धिताल

5.            डॉ. शंकर राजारमन

 

अरबी

 

1.            डॉ. मो. कुतबुद्दीन

 

 

फारसी

1.            डॉ. हसीनुज़्ज़माँ

 

पाली

 

1.            डॉ. उज्जवल कुमार

 

प्राकृत

 

1.            डॉ. योगेष कुमार जैन

 

 

यह सम्मान प्रत्येक वर्ष संस्कृत, फारसी, अरबी, पाली तथा प्राकृत के क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान हेतु स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर दिया जाता है।


Leave a Reply